जहरीली शराब से मौत पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सख्त, कहा-किसी को छोड़ेंगे नहीं

जहरीली शराब से मौत पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सख्त
जहरीली शराब से मौत पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सख्त

जहरीली शराब से मौत पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सख्त, कहा-किसी को छोड़ेंगे नहीं

बिहार में लगातार जहरीली शराब (Death Due To Poisonous Liquor) से हो रही मौतों पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) बेहद गुस्से में नजर आ रहे हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सोमवार को एक बार फिर बिलकुल सख्त लहजे में साफ-साफ कह दिया है कि किसी भी दोषी को नहीं बख्शा जाएगा, चाहे वह अवैध शराब कारोबारी हो या शराबबंदी का ठीक तरीके से पालन नहीं करवाने वाले सरकारी बाबु से लेकर सरकारी  कर्मचारी. हम किसी को नहीं छोड़ेंगे. सभी दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. हम एक-एक चीज की समीक्षा कर रहे हैं.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जनता दरबार के बाद पत्रकारों से बातचीत में अपने गुस्से का का इजहार करते हुये सरकारी ‘बाबुओं’ को भी सख्त लहजे में चेतावनी दे दी है कि लापरवाही बरतने वाले लोगों को छोड़ा नहीं जाएगा. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि शराब कितनी खतरनाक चीज है, ये किसी से छिपी नहीं है. इसके बावजूद कुछ लोग इस धंधे में लगे हुए हैं और जहरीली शराब बेच रहे हैं. लोग भी इसे खरीद कर पी रहे हैं, जिससे उनकी जान चली जा रही है. हम बार-बार कहते हैं कि यह सशराब पीजिएगातो नुकसान होगा, जो दो नंबर का धंधा करता है उस के माध्यम से लोग लेकर शराब का सेवन करते हैं, जिसका नतीजा यह होता है.

शराब से मौत पर एक्शन में नजर आ रहे है मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा 16 नवंबर को हमने एक मीटिंग बुलाई है, जिसमें हर जिले से हर चीज की जानकारी लेंगे और समीक्षा करेंगे. साथ ही हमने सभी अधिकारियों से यह भी पूछा है कि जहां से अवैध शराब बिहार में प्रवेश कर रहा रहा वहीं पर क्यों नहीं पकड़ा जा रहा है. आखिर किसकी लापरवाही से बिहार के अंदर शराब पहुंच रहा है, वैसे लोगों को चिन्हित कर उन पर कार्रवाई की जाएगी. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा- बिहार में एक बार फिर से बड़े पैमाने पर जागरूकता अभियान चलाया जाएगा, लोगों को जागरूक किया जाएगा.

सीएम नीतीश कुमार ने तेजस्वी पर किया कटाक्ष

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इशारों-इशारों में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) पर भी हमला बोला. उन्होंने कहा कि हमने शराबबंदी कानून लागू किया. कुछ लोग हैं जो सिर्फ बयान देते हैं कुछ करते नहीं. अगर आपके पास जानकारी है तो क्यों नहीं पुलिस को जानकारी देते हैं, ताकि लोग पकड़ा जाते. लेकिन, कुछ लोग सिर्फ बयानबाजी करते हैं. सीएम ने कहा कि विधानसभा में सर्वसम्मति से तमाम पार्टियों ने शराबबंदी क़ानून लागू करने का फ़ैसला किया था, लेकिन आज वही लोग सिर्फ बयानबाजी कर रहे हैं. अगर आपके पास कोई सूचना है तो दीजिए, लेकिन सूचना देने के बजाय सिर्फ पत्र लिख दीजिएगा, मीडिया में बयान दे दीजिएगा, इससे क्या फायदा है? मुख्यमंत्री ने आपको क्या बनाया था आपको नहीं पता? लेकिन इसके बाद भी अगर आपको ज्ञान नहीं है तो उसका क्या फायदा? आपको तो सहयोग करना चाहिए. सीएम ने कहा कि सभी ने विधानसभा में खड़े होकर शराबबंदी के लिए शपथ लिया था, आज वही लोग शराबबंदी का विरोध कर रहे हैं.