बिहार के 5 जिलों से होकर गुजरेगा पटना कोलकाता एक्सप्रेसवे, बिहार के इन 5 जिलों से गुजरेगा – BuxarNews

0
45
बिहार के 5 जिलों से होकर गुजरेगा पटना कोलकाता एक्सप्रेसवे
बिहार के 5 जिलों से होकर गुजरेगा पटना कोलकाता एक्सप्रेसवे

बिहार के 5 जिलों से होकर गुजरेगा पटना कोलकाता एक्सप्रेसवे; बिहार में भी अब यूपी जैसा एक्सप्रेसवे बिहार सरकार द्वारा जल्द बनावाया जाएगा. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसकी घोषणा शुरू किया है. यह एक्सप्रेसवे पटना से कोलकाता के बीच बनेगा. इसकी लंबाई 550 किलोमीटर होगी जिससे बिहार की राजधानी पटना और पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता का 550 किलोमीटर का सफर बेहद ही आसान हो जाएगा. दरअसल, पिछले साल दिसंबर में जब यूपी में पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का उद्घाटन तो हुआ तो बिहार में भी इस तरह के एक्सप्रेस-वे की मांग उठने लगी. चिराग पासवन से लेकर कई विरोधी दलों के नेताओं ने यह कहा कि बिहार सरकार हमेशा केंद्र सरकार की मदद के लिए बैठी रहेगी कि खुद भी अपना सामर्थ्य दिखाएगी. इसके बाद बीच बिहार सरकार के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने पटना में कोलकाता के बीच एक्सप्रेसवे का ऐलान कर दिया.

बिहार के 5 जिलों से होकर गुजरेगा पटना कोलकाता एक्सप्रेसवे

पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने घोषणा करते हुए कहा था कि कि बिहार में भी पूर्वांचल एक्सप्रेसवे जैसी सड़क बहुत जल्द देखने को मिलेगी. बिहार सरकार बहुत जल्द पटना कोलकाता एक्सप्रेस वे बनाएगी. हम देहाती क्षेत्रों में मुख्य सड़क से कनेक्ट कर रहे हैं. बिहार की कनेक्टिविटी को मजबूत कर रहे हैं. मंत्री नितिन नवीन ने बताया कि भारतमाला 2 के तहत पटना कोलकाता एक्सप्रेस वे के तहत सड़क बिहारशरीफ के बाद पूरी तरह से नहीं होगी. पटना से कोलकाता एक्सप्रेसवे बिहार की पहली सड़क होगी जो एज रिस्ट्रिक्टेड होगी. यह एक्सप्रेसवे पटना बख्तियारपुर होते हुए रजौली से निकलेगा. नालंदा बिहार शरीफ से इसका एलाइनमेंट अलग हो जाएगा.

सिर्फ भारी वाहनों का परिचालन होगा

बता दें कि जिस रास्ते से यह रोड आगे बढ़ेगा उस पर अभी कोई सड़क नहीं है. नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया यानी NHAI द्वारा 450 किमी से अधिक पटना-कोलकाता एक्सप्रेसवे बिहार और पश्चिम बंगाल के बीच प्रस्तावित 6 लेन एक्सेस-कंट्रोल्ड राजमार्ग होगा. भारतमाला परियोजना (बीएमपी) चरण 2 के तहत यह ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे पुराने भीड़भाड़ वाले राष्ट्रीय राजमार्ग NH-2 के विकल्प के रूप में काम करेगा जिस पर सिर्फ भारी वाहनों का परिचालन होगा.

18000 करोड़ (कहीं-कहीं मीडिया रिपोर्ट में 21000 करोड़ बताई जा रही है) की अनुमानित लागत वाली इस परियोजना में बिहार के 5 जिले शामिल हैं. पटना (बख्तियारपुर), नालंदा (बिहारशरीफ), शेखपुरा, जमुई के सिकंदरा व चकाई, बांका के कटोरिया होते हुए मधुपुर, दुर्गापुर और पानागढ़ होते हुए यह रोड ढालकुनी से आगे बढ़ेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here