पटना सहित बिहार के 10 शहरों में बदलेगी ट्रैफिक व्‍यवस्‍था , जानिए क्या-क्या होगा बदलाव : BuxarNews

पटना सहित बिहार के 10 शहरों में बदलेगी ट्रैफिक व्‍यवस्‍था
पटना सहित बिहार के 10 शहरों में बदलेगी ट्रैफिक व्‍यवस्‍था

पटना सहित बिहार के 10 शहरों में बदलेगी ट्रैफिक व्‍यवस्‍था: बिहार के मुख्य शहरों में शहर की आबादी गाडिय़ों की क्षमता जाम लगने वाले इलाके पुलिस बल व आधरभूत संरचना आदि पर विचार-विमर्श होगा। इसके अलावा सड़क सुरक्षा पर भी जोर होगा ताकि दुर्घटनाओं में कमी लाई जा सके।

ताजा मिली जानकारी के अनुसार बिहार के करीब एक दर्जन से भी अधिक मुख्य शहरों की ट्रैफिक व्यवस्था में बदलाव कर उन्हें हाईटेक बनाया जाएगा।

पटना सहित बिहार के 10 शहरों में बदलेगी ट्रैफिक व्‍यवस्‍था

बिहार के एक दर्जन मुख्य शहरों में ट्रैफिक व्यवस्था दुरुस्त की जाएगी। ट्रैफिक व्यवस्था में सुधार के लिए राज्य के एक दर्जन बड़े शहरों की ट्रैफिक समीक्षा की जाएगी। इसमें शहर की आबादी, गाडिय़ों की क्षमता, जाम लगने वाले इलाके, पुलिस बल व आधरभूत संरचना आदि पर विचार-विमर्श होगा। इसके अलावा सड़क सुरक्षा पर भी जोर होगा ताकि दुर्घटनाओं में कमी लाई जा सके।

पहले चरण में प्रमंडलीय मुख्यालय वाले शहरों को चुना गया है। इसके बाद अन्य मुख्य शहरों की बारी आएगी। इसके लिए पिछले सप्ताह ही छपरा में समीक्षा बैठक की गई है। इसके अलावा पटना, गया, भोजपुर, सारण, मुजफ्फरपुर, बेगूसराय, पूर्णिया, भागलपुर, मुंगेर व दरभंगा जैसे शहरों की ट्रैफिक व्यवस्था की भी समीक्षा होगी।

ट्रैफिक आइजी एमआर नायक ने समीक्षा काम शुरू भी कर दिया है। पिछले सप्ताह ही छपरा में समीक्षा बैठक की गई है। इसके अलावा पटना, गया, भोजपुर, सारण, मुजफ्फरपुर, बेगूसराय, पूर्णिया, भागलपुर, मुंगेर व दरभंगा जैसे शहरों की ट्रैफिक व्यवस्था की भी समीक्षा होगी। शहरीकरण के साथ ही सड़कों पर वाहनों का दबाव बढ़ रहा है। बिहार के तमाम पुराने शहरों की सड़कें 50 से 100 साल पुरानी हालत में ही हैं, जबकि वाहनों की संख्‍या कई गुना बढ़ गई है।

ऐसे में छोटे शहरों में भी जाम लगना आम बात होती जा रही है।

  • एक दर्जन बड़े शहरों में दुरुस्त होगी ट्रैफिक व्यवस्था
  • पटना, छपरा, मुजफ्फरपुर, भागलपुर और गया में बदलेगी व्‍यवस्‍था
  • बिहार के शहरों में शुरू हुई ट्रैफिक समीक्षा
  • तकनीक पर होगा जोर, लगेंगे ट्रैफिक सिग्‍नल

ट्रैफिक व्यवस्था में सुधार के लिए इन शहरों के महत्वपूर्ण चौक-चौराहों पर ट्रैफिक सिग्नल लगाने की योजना है। इसके लिए मुख्य जगहों के प्रस्ताव मांगे गए हैं। इसके अलावा ट्रैफिक पुलिस बल बढ़ाने की भी योजना है। इस पर विचार चल रहा है। ट्रैफिक पुलिस को भी अत्याधुनिक तकनीक से लैस करने का काम भी शुरू हो गया है।

इसके तहत नालंदा, भागलपुर, पटना समेत कई शहरों में पुलिस को बाडी वार्न कैमरा और स्पीड गन आदि भी मुहैया कराए गए हैं। पुलिस आधुनिकीकरण योजना से दूसरे शहरों के लिए भी इन उपकरणों की खरीद की जाएगी।